परमाणु संरचना संबंधित जानकारी | Atomic Structure Related Knowledge in Hindi - EXAMS TIPS HINDI

Tuesday, December 24, 2019

परमाणु संरचना संबंधित जानकारी | Atomic Structure Related Knowledge in Hindi

परमाणु संरचना संबंधित जानकारी | Atomic Structure Related Knowledge in Hindi

इस लेख में आप परमाणु संरचना (Atomic Structure) विषय पर आधारित सामान्य ज्ञान की तैयारी कर सकते है। यह लेख UPSC, PSC, SSC, NTPC, Railway, JEE इत्यादि के लिए महत्वपूर्ण है। इस प्रकार के लेख को पढ़ने के लिए हमसे सोशल मीडिया पर जुड़े रहे। अगर आपके पास इस विषय से संबंधित प्रश्नोतरी है तो कमेंट में बताए।
Atomic Structure, परमाणु संरचना
Atomic Structure Related Knowledge in Hindi
● किसी तत्व की संरचना का महत्वपूर्ण भाग कौन-सा है → परमाणु
● किसी यौगिक की संरचना का महत्वपूर्ण भाग कौन-सा है  → अणु
● सर्वप्रथम एक छोटे से कण ‘परमाणु' की खोज करने वाले भारतीय दर्शनशास्त्री कौन थे → ऋषि कणाद
● कनाडा के पश्चात् किस ग्रीक दर्शनशास्त्री ने अणुओं का सिद्धान्त दिया → डेमोक्रिटस
● अणु शब्द कौन-से ग्रीक शब्द से लिया गया है → ATOMUS
● एटोमस शब्द का क्या अर्थ है → अदृश्य
● वैज्ञानिक बॉयल ने अपनी किस पुस्तक में अणु का वर्णन किया है → The Sceptical Chycrist
● द्रव्य ऐसे सूक्ष्मतम कणों से बना है, जो रासायनिक क्रिया में भाग ले सकते हैं, किसने कहा है → डाल्टन
● परमाणु को किन भागों में विघटित किया जा सकता है→  प्रोटॉन, इलेक्ट्रॉन, न्यूट्रॉन
● किसी अणु में उपस्थित कुल परमाणुओं की संख्या क्या कहलाती है → परमाणुकता
● जो यौगिक आयनों से मिलकर बने होते हैं, क्या कहलाते हैं → आयनिक यौगिक
● वह आयन क्या कहलाता है जिस पर धन आवेश होता है → धनायन
● वह आयन क्या कहलाता है जिस पर ऋण आवेश होता है → ऋणायन
● परमाणु भार इकाई को संक्षेप में किससे प्रदर्शित करते हैं → amu
● हाइड्रोजन परमाणु का भार कितना है → 1.008 amu
● ऑक्सीजन का एक ग्राम परमाणु कितने ग्राम ऑक्सीजन को प्रदर्शित करता →  16 ग्राम
● कार्बन-12 इकाइयों में किसी परमाणु का भार उस परमाणु का क्या कहलाता →  द्रव्यमान
● कार्बन-12 आइसोटोप के एक ग्राम परमाणु में उपस्थित 12C6 परमाणुओं की संख्या क्या कहलाती है →  एवोगैड्रो संख्या
● किस महान् वैज्ञानिक के नाम पर संख्या का नाम एवोगैड्रो संख्या रखा गया → एमादियो ऐवोगैड्रो
● प्रायोगिक रूप में अणुओं के स्थान पर क्या लिखा जाता है→  मोल
● कैथोड किरणों का अध्ययन किन वैज्ञानिकों ने किया→ विलियम कुक्स, जे.जे. थॉमसन
● कैथोड किरणें किस प्रकार चलती हैं →  सीधी रेखा में
● कौन सी किरणें धातु की पतली पन्नी में तापदीप्ति उत्पन्न करती हैं→  कैथोड
● कैथोड किरणें कौन सी किरणें उत्पन्न करती हैं →  X-किरणें
● किन किरणों की संहति विसर्ग नली में ली गई गैस के परमाणु के तुल्य होती → एनोड किरण
● एक परमाणु से एक इलेक्ट्रॉन निकल जाने के बाद बचा हुआ एक इकाई धनावेश क्या कहलाता है→  प्रोटॉन
● बेरिलियम तथा अन्य परमाणु पर तीव्र गति वाले कण की बम वर्षा करने पर उसमें निकले आवेश कण क्या कहलाते हैं→  न्यूट्रॉन
● न्यूट्रॉन के उपरोक्त सिद्धांत का आविष्कार किस वैज्ञानिक ने किया था →  चैडविक
● इलेक्ट्रॉन की खोज किस वैज्ञानिक ने की थी→ जे. जे. थॉमसन
● प्रोटॉन की खोज किस वैज्ञानिक ने की थी →  रदरफोर्ड
● नाभिक में उपस्थित प्रोटॉनों की संख्या क्या कहलाती है →  परमाणु क्रमांक
● प्रोटॉनों तथा न्यूट्रॉनों की संख्या का योग क्या कहलाता है →  परमाणु भार
● किस वैज्ञानिक ने बताया कि इलेक्ट्रॉन नाभिक के चारों ओर बंद स्थिर में परमाणु भार वृत्तीय कक्षा में चक्कर लगाते हैं → नील्स बोर
● परमाणु का बाह्य कोश क्या कहलाता है→  संयोजी कोश
● बाह्य कोश के इलेक्ट्रॉन क्या कहलाते हैं →  संयोजी इलेक्ट्रॉन
● जे.जे. थॉमसन ने किस वर्ष एक परमाणु का मॉडल प्रस्तुत किया →  1903 ई.
● भौतिक शास्त्र के लिए जे.जे. थॉमसन को किस वर्ष नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया → 1906 ई.
● किस इंग्लिश वैज्ञानिक ने α -कणों के प्रकीर्णन प्रयोग से प्राप्त जानकारी के आधार पर परमाणु का नाभिकीय मॉडल प्रस्तुत किया→  रदरफोर्ड
● रदरफोर्ड मॉडल की कमियों को किस वैज्ञानिक ने दूर किया→  नील्स बोर
● परमाणु भार व तुल्यांकी भार में क्या संबंध है → परमाणु भार = तुल्यांकी भार x संयोजकता
● परमाणु भार व विशिष्ट ऊष्मा में क्या संबंध है → परमाणु भार x विशिष्ट ऊष्मा = 6.4
● किसी ठोस के लिए Cp/Cv=1.4 है तो उसकी परमाणुकता कितनी होगी → 2
● किसी ठोस के लिए  Cp/Cv=1.6 है तो उसकी परमाणुकता कितनी होगी→ 1
● वाष्प घनत्व व अणुभार में क्या संबंध है →  अणुभार = 2 x वाष्प घनत्व
● कार्बोनेट आयन का तुल्यांकी भार कितना होता है →  30
● परमाणु भार की इकाई क्या होती है → कोई नहीं
● किसी यौगिक का अणुभार 48 है, तो उसका वाष्प घनत्व कितना होगा →  24
● 20 ग्राम जल और 5 ग्राम CO₂ में विद्यमान अणुओं की संख्या का अनुपात क्या है →   88 : 9
● 1.4 ग्राम नाइट्रोजन में अणुओं की संख्या क्या होगी  3.0120x1022
● किसी भी निश्चित सूत्र वाले पदार्थ की वह राशि, जिसमें इस पदार्थ के इकाई-सूत्र की संख्या उतनी ही है, जितनी शुद्ध कार्बन -12 आइसोटोप के ठीक 12 ग्राम में परमाणुओं की संख्या है, क्या कहलाती है →  मोल धारणा (Mole Concept)


यह भी पढ़ें:-
सायन विज्ञान की विभिन्न शाखाएँ संबंधित जानकारी
पदार्थ की संरचना और प्रकृति संबंधित जानकारी
तत्वों का आवर्ती वर्गीकरण संबंधित जानकारी
गैसों का आचरण संबंधित जानकारी
रेडियोधर्मिता संबंधित जानकारी

परमाणु संरचना संबंधित जानकारी | Atomic Structure Related Knowledge in Hindi

● आवोगाद्रो संख्या का आंकिक मान क्या है →  6.023 x 1023
● मोल को इकाई के रूप में किस वर्ष स्वीकार किया गया →  1967 में
● किसी तत्व की द्रव्यमान संख्या, न्यूट्रॉन की संख्या तथा प्रोटॉन की संख्या में क्या संबंध होता है →  परमाणु संख्या/द्रव्यमान संख्या = न्यूट्रॉन + प्रोटॉन
● किसी तत्व का परमाणु क्रमांक किसके बराबर होता है →  परमाणु क्रमांक = इलेक्ट्रॉन = प्रोटॉन
● किस तत्व की विद्युत ऋणात्मकता सबसे अधिक होगी →  क्लोरीन
● परमाणु की त्रिज्या कितनी होती है  37x10-10 मीटर
● नाभिक की त्रिज्या कितनी होती है →  10x10-15 मीटर
● परमाणु को सर्वप्रथम विभाजित किसने किया था →  बैकुरल
● परमाणु संख्या का पता किसने लगाया → मोसले ने
● परमाणु का द्रव्यमान कितना होता है  1.67x 10-21किग्रा
● एल्फा (α) किरणों पर कौन-सा आवेश होता है→  धन आवेश
● बीटा (β) किरणों पर कौन-सा आवेश होता है →  ऋण आवेश
● गामा (γ) किरणों पर कौन-सा आवेश होता है →  कोई आवेश नहीं होता है
● बीटा किरणों का वेग कितना होता है →  प्रकाश के वेग का 9/10 भाग
● गामा किरणों का वेग कितना होता है → प्रकाश के वेग के समान
● किन किरणों की भेदन क्षमता सबसे अधिक होती है →  गामा किरणों की
● गामा किरणों की खोज किसने की →  बैकुरल ने
● किसी परमाणु से एक अल्फा कण निकल जाने पर द्रव्यमान संख्या तथा परमाणु क्रमांक पर क्या प्रभाव पड़ता है →  द्रव्यमान संख्या में 4 की कमी तथा परमाणु क्रमांक में 2 की कमी हो जाती है
● किसी नाभिक से एक बीटा कण निकल जाने पर द्रव्यमान संख्या व परमाणु क्रमांक पर क्या प्रभाव पड़ेगा →  परमाणु क्रमांक में 1 की वृद्धि तथा द्रव्यमान संख्या अपरिवर्तित रहेगी
● किसी तत्व की द्रव्यमान संख्या 35 है व उसका परमाणु क्रमांक 17 है, एक बीटा-कण निकल जाने से नए तत्व की द्रव्यमान संख्या व परमाणु क्रमांक क्या होगा→  द्रव्यमान संख्या = 35, परमाणु क्रमांक 17 + 1 = 18
● फोटॉन की ऊर्जा E, संवेग P तथा वेग C में क्या संबंध है→  P = E/C
● जब दो इलेक्ट्रॉन एक ही कक्षा में होते हैं तो उनमें क्या पाया जाता है →  विपरीत चक्रण
● किसी तत्व के परमाणु की दूसरी कक्षा में अधिकतम् इलेक्ट्रॉनों की संख्या कितनी होती है →  8
● कार्बन का परमाणु क्रमांक 6 तथा परमाणु भार 12 है, तो नाभिक में कितने प्रोटॉन होंगे →  6 प्रोटॉन
● मुख्य क्वांटम संख्या किसका निर्धारण करती है →  कक्षाओं में विभिन्न अभिविन्यास
● तत्वों की प्रकृति को किस प्रकार ज्ञात किया जा सकता है → नाभिक में उपस्थित न्यूट्रॉनों की संख्या द्वारा
● 'इलेक्ट्रॉन तब तक युग्मित नहीं होते, जब तक उनके लिए प्राप्त रिक्त कक्षक समाप्त न हो जाएँ, यह सिद्धांत किसका है→ फ्रेडरिक हुंड
● स्वर्ण-पत्र से किसके प्रकीर्णन का अध्ययन करके रदरफोर्ड ने नाभिक की खोज की →   α-कण
● आण्विक सिद्धांत का प्रतिपादन किसने किया → जॉन डॉल्टन ने
● द्रव्यमान संख्या और परमाणु द्रव्यमान का अंतर क्या कहलाता है → द्रव्यमान क्षति
● कौन सी क्वांटम संख्या मुख्य ऊर्जा स्तर को प्रदर्शित करती है → मुख्य क्वांटम संख्या ‘n’ (Principal (Quantum Number)
● कौन सी क्वांटम संख्या इलेक्ट्रॉन कक्षक (Orbital) की आकृति को प्रदर्शित करती है →  दिगंशी क्वांटम संख्या ‘l’ (Azimuthal Quantum Number)
● ‘l’ का न्यूनतम् मान तथा अधिकतम् मान क्रमशः→  न्युनतम् मान शून्य तथा अधिकतम मान (n’ l)
● कौन-सी क्वांटम संख्या उप-ऊर्जा स्तरों के कक्षकों को प्रदर्शित करती है →  चुम्बकीय क्वांटम संख्या ‘m’ (Magnetic Quantum Number)
● 'l' के मान किसके मान पर निर्भर करता है →  'm' का मान
● किसी 'l’ के लिए 'm' का मान कितना होता है →  + l से लेकर - l तक (शुन्य सहित)
● कौन सी क्वांटम संख्या इलेक्ट्रॉन के चक्रण की दिशा को प्रदर्शित करती है →  चक्रण क्वांटम संख्या 's’ (Spin Quantum Number)
● किसी चुम्बकीय क्वांटम संख्या (m) के लिए चक्रण क्वांटम संशा (s) का मान कितना होता है→  +½ और -½
● एक दिए गए परमाणु में किन्हीं दो इलेक्ट्रॉनों के लिए चारों क्वांटम संख्याओं का मान समान नहीं हो सकता, यह किस नियम को निरूपित करता है →  पाऊली का अपवर्जन नियम (Pauli's exclusion principle)
● यदि दो इलेक्ट्रॉनों के n, l और m के मान एक ही हो तो उनका चक्रण कैसा होगा →  विपरीत
● अनिश्चितता का सिद्धांत किसने दिया → हाइजेनबर्ग ने
● किसी कण की स्थिति और तेग का एक साथ यथार्थ निर्धारण असंभव है, यह कौन-सा नियम है →  हाइजेनबर्ग का अनिश्चितता सिद्धांत (Heisenberg's uncertainty principle)
● तत्वों के इलेक्ट्रॉनिक विन्यास लिखने के लिए विभिन्न परमाणु कक्षकों की ऊर्जा बढ़ने का क्रम किस नियम द्वारा निर्धारित होता है →  ऑफबाऊ नियम (Aufbau principle)
● समान परमाणु क्रमांक परन्तु भिन्न परमाणु द्रव्यमानों के परमाणुओं को क्या कहते है→  समस्थानिक (Isotopes)
● सबसे अधिक समस्थानिकों वाला तत्त कौन-सा है → पोलोनियम
● जिन तत्वों के परमाणु भार समान किन्तु परमाणु क्रमांक भिन्न होते हैं, उन्हें क्या कहते हैं →  समभारी (Isobars)
● जिन परमाणुओं में न्यूट्रॉनों की संख्या समान होती है, उन्हें क्या कहते हैं →  समन्यूट्रॉनिक (Isotope)
● जिन आयनों और परमाणुओं के इलेक्ट्रॉनिक विन्यास समान होते हैं, उन्हें क्या कहते हैं→  समइलेक्ट्रॉनिक (Isoelectronic)
● हाइड्रोजन के रेडियो सक्रिय समस्थानिकों को क्या कहते हैं→  ट्राइटियम
● परमाणु भट्टी में विमंदक का कार्य कौन करता है →  ग्रेफाइट
● नाभिकीय रिएक्टर में नियंत्रक छड़ किसकी बनी होती है  → कैडमियम
● कृत्रिम रेडियोएक्टिवता की खोज किसने की →  मैडम क्युरी ने
● किसी पदार्थ के अर्द्धआयु काल t½  तथा विघटन स्थिरांक में क्या संबंध है →  t½ = 0.6931/k , जहाँ k= विघटन स्थिरांक
● कौन-सी किरणों की आयनीकरण क्षमता सबसे अधिक होती है → α-किरणों की
● सूर्य अपनी विकिरण ऊर्जा किस विधि द्वारा प्राप्त करता है →  संलयन विधि द्वारा
● कोबाल्ट - 60 आमतौर पर विकिरण चिकित्सा में प्रयुक्त होता है, यह कौन-सी किरणों को उत्सर्जित करता है →  गामा किरणों को
● कोबाल्ट -60 का प्रयोग किस गंभीर बीमारी हेतु किया जाता है →   कैंसर हेतु
● रेडियो सक्रिय परिवर्तन में कौन भाग लेता है → परमाणु का नाभिक
● क्यूरी किसकी इकाई है →  रेडियोधर्मिता की
● नाभिकीय आपूर्तिकर्ता समूह (NSG) में कितने देश हैं →  46 देश
● परमाणु शक्ति संयंत्र किस सिद्धांत पर कार्य करता है→  विखंडन के सिद्धांत पर
● किसी रेडियोधर्मी पदार्थ की अर्द्धआयु 20 मिनट है तो उसके 1 ग्राम को 0.25 ग्राम तक घटने में कितना समय लगेगा→  40 मिनट
● यदि किसी रेडियोधर्मी पदार्थ की मात्रा दो गुनी कर दी जाए तो रेडियोधर्मी क्षरण की दर क्या होगी→  अपरिवर्तित रहेगी
● किस रेडियोएक्टिव तत्व का नाम उसके आविष्कारक के देश के नाम पर रखा गया है→  पोलोनियम
● एक ही तत्व के भिन्न-भिन्न द्रव्यमान वाले परमाणु क्या कहलाते हैं → समस्थानिक
● समस्थानिक किस भाषा का शब्द है →  ग्रीक
● समस्थानिक (आइसो = समान, टोपस = स्थान) का क्या अर्थ है →  एक समान स्थान
● समभारी किस भाषा का शब्द है →  ग्रीक
● समभारी (iso = समान, bars = भारी) का क्या अर्थ है →  समान भारी
● ऐसे तत्व जो समान परमाणु भार, लेकिन भिन्न परमाणु क्रमांक रखते हैं, क्या कहलाते हैं →  समभारी
● भिन्न तत्वों के वे परमाणु जिनमें न्यूट्रॉनों की संख्या समान होती है, क्या कहलाते हैं → समन्यूट्रॉनिक
● गर्म वस्तुओं से उत्सर्जित तरंगों की व्याख्या करने हेतु प्लैंक ने कौन सा सिद्धान्त प्रस्तुत किया → प्लैंक क्वांटम
● प्रकाश में द्वैत स्वभाव ही परिकल्पना सर्वप्रथम किस वैज्ञानिक ने दी थी→  डी ब्रॉगली
● कणों के तरंग स्वभाव की पुष्टि किन वैज्ञानिकों के प्रयोग से हुई→  डेविसन और जरमर
● इलेक्ट्रॉनों का विभिन्न ऊर्जा स्तरों में वितरण का सिद्धांत सर्वप्रथम किस वैज्ञानिक ने दिया→  बोर-बरी
● इलेक्ट्रॉन की विभिन्न कक्षाओं में व्यवस्थित वितरण क्या कहलाता है→ इलेक्ट्रॉनिक विन्यास
● सन् 1916 में सर्वप्रथम आर्बिटलों की परिकल्पना किसने दी →  समरफील्ड
● तरंग गतिकी सिद्धांत किस वैज्ञानिक ने दिया→  शॉडिंगर
● चुंबकीय क्वांटम संख्या का आविष्कार किस वैज्ञानिक ने किया था →  समरफील्ड
● किस नियम के अनुसार किसी परमाण के किन्हीं भी दो इलेक्ट्रॉनों के लिए चारों क्वांटम संख्याओं का मान एक समान नहीं हो सकता →  पाउली का अपवर्जन नियम

उम्मीद है यह लेख आपके लिए उपयोगी होगा। कृपया अपना सुझाव कमेंट में बताए। इस लेख को अपने दोस्तों से ज़रूर शेयर कीजिए।

यह भी पढ़ें:-
रासायनिक अभिक्रियाएँ संबंधित जानकारी
धातुओं से संबंधित जानकारी
अधातुओं से संबंधित जानकारी
विलयन संबंधित जानकारी
अम्ल, क्षार तथा लवण संबंधित जानकारी

No comments:

Post a Comment