नौसेना में SSR क्या होता है, SSR में कैसे भर्ती हों | What is SSR in Navy, How to get Recruit in SSR in Hindi - EXAMS TIPS HINDI

Home Top Ad

Post Top Ad

Friday, January 24, 2020

नौसेना में SSR क्या होता है, SSR में कैसे भर्ती हों | What is SSR in Navy, How to get Recruit in SSR in Hindi

नौसेना में SSR क्या होता है, SSR में कैसे भर्ती हों | What is SSR in Navy, How to get Recruit in SSR in Hindi

नमस्कार दोस्तों, EXAMS TIPS HINDI वेबसाइट में आपका स्वागत है। आज के इस लेख में हम भारतीय नौसेना में SSR की भर्ती के बारे में सारी जानने की कोशिश करेंगे। हर किसी का कोई ना कोई एक सपना होता है। कुछ नौजवानों का  सपना होता है भारत की सेना में भर्ती होकर देश की रक्षा करना , तो किसी का नौसेना की सफेद वर्दी पसंद है। भारतीय नौसेना नौजवानों को 10+2 के बाद बहुत ही सुंदर अवसर प्रदान करती है। भारतीय नौसेना नाविकों को अच्छे वेतन और भत्ते, पेंशन, स्वयं और परिवार के लिए चिकित्सा लाभ प्रदान करता है।

इस लेख में भारतीय नौसेना में नाविकों की एसएसआर (SSR) भर्ती के बारे में सारी जानकारी दी गई है। कुछ लोग जानकारी के अभाव के बिना भी अपना करियर सही से चयन नहीं कर पाते हैं क्योंकि उनको उस जॉब को पाने की प्रक्रिया का पता नहीं होता है। नौसेना में SSR की भर्ती सिर्फ पुरूषों के लिए है, महिला अभ्यर्थी इस पोस्ट के लिए आवेदन नही कर सकती है।

नौसेना में SSR क्या होता है, SSR में कैसे भर्ती हों, What is SSR in Navy, How to get Recruit in SSR in Hindi
नौसेना में SSR क्या होता है, SSR में कैसे भर्ती हों | What is SSR in Navy, How to get Recruit in SSR in Hindi

नौसेना एसएसआर क्या है | What is Navy SSR

दोस्तों भारतीय नौसेना में नाविकों की कई प्रकार की भर्तियां हैं जिनमें से एक एसएसआर (SSR) भी है। SSR का मतलब होता है Senior Secondary Recruit। इस भर्ती के लिए नौजवान इंटरमीडिएट के बाद आवेदन कर सकते है। 2007 से पहले इस भर्ती का नाम MER था। MER का मतलब Metric Entry Recruit होता है और MER में भर्ती होने के लिए 10वीं पास नौजवान भी आवेदन कर सकते थे।

नौसेना एसएसआर का क्या काम होता है | What Does Navy SSR do

SSR से भर्ती हुए नाविकों को अपने ट्रेड के अनुसार ड्यूटी देनी होती है। नौसेना में SSR से भर्ती हुए नाविकों की अलग अलग ब्रांच- मेडिकल(Medical), मेकैनिकल(Mechanical), इलेक्ट्रिकल(Electrical), स्टोर(Store), एविएशन(Aviation), सीमैन(Seaman), Gunnery इत्यादि होती है। SSR नाविकों को युद्ध पोतों में अपने ट्रेड के अनुसार कार्य करना होता है। इन कार्यों को करने से अपने आप मे गर्व महसूस होता है। कुछ SSR नाविक अपने स्वेक्षानुसार पनडुब्बियों में भी शामिल हो जाते है। पनडुब्बियों में रहने वाले SSR नाविकों को अतिरिक्त भत्ता और सुविधाएं भी मिलती है।

नौसेना एसएसआर में कैसे जाएं | How to Get into Navy SSR

भारतीय नौसेना में SSR की भर्ती हर साल दो बार होती है। आवेदन की अधिसूचना रोज़गार समाचार पत्रों, रोज़गार न्यूज़ वेबसाइटों, और नौसेना की आधिकारिक वेबसाइट https://www.joinindiannavy.gov.in से आप प्राप्त कर सकते है।

नौसेना एसएसआर पदों के लिए योग्यता | Qualification for Navy SSR Posts

नौसेना एसएसआर के पदों पर भर्ती के लिए विभिन्न योग्यता चाहिए:-

शैक्षणिक योग्यता (Education Qualification):- इस पद के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थी को किसी केंद्र/राज्य से मान्यता प्राप्त बोर्ड से गणित और भौतिक विज्ञान के साथ (रसायन विज्ञान/जीव विज्ञान/कंप्यूटर साइंस में से कोई एक) 10+2 उतीर्ण होना चाहिए।

आयु सीमा (Age Limit):- SSR के लिए आवेदन करने के लिए अभ्यर्थी की उम्र 17 से 20 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

ऊंचाई(Height):- SSR के लिए आवेदन करने के लिए अभ्यर्थी की न्यूनतम ऊँचाई 157 सेमी. होनी चाहिए। उत्तर भारत जैसे हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और पूर्वोत्तर के राज्यों इत्यादि के उम्मीदवारों की ऊंचाई में छूट दी जाती है।

राष्ट्रीयता(nationality):- SSR के लिए आवेदन करने के लिए अभ्यर्थी की राष्ट्रीयता भारतीय होनी चाहिए।

नौसेना एसएसआर की चयन प्रक्रिया | Navy SSR Selection Procedure

नौसेना SSR में अभ्यर्थियों के चयन तीन चरण में होता है। सबसे पहले परीक्षा होता है। इसके बाद शारीरिक स्वास्थ्य परीक्षण (Physical Fitness Test) और अंत में चिकित्सा परीक्षण (Medical Examination) होता है।

नौसेना SSR की परीक्षा का पैटर्न और पाठ्यक्रम | Navy SSR Exam Pattern and Syllabus


नौसेना में SSR के पदों की भर्ती की लिखित परीक्षा होती है। इस परीक्षा में कुल 100 प्रश्न होते है और सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ प्रकार के होते है। अभ्यर्थियों को प्रश्न पत्र को हल करने के लिए कुल 60 मिनट मिलते है। प्रश्न पत्र में कुल चार खंड होते है। इस परीक्षा में गलत उत्तर देने पर अंक नही काटे जाते है। सभी खंडों में पास होना ज़रूरी होता है। परीक्षा का परिणाम, परीक्षा के तुरंत बाद 2-3 घंटे में आ जाता है। प्रत्येक खंड में प्रश्नों की संख्या और विषय नीचे तालिका में दिया गया है:-


विषय
प्रश्नों की संख्या
समय
अंग्रेजी
25
60 मिनट
विज्ञान
25
गणित
25
सामान्य ज्ञान
25

यह भी पढ़ें:-
नेवी SSR परीक्षा टिप्स
भारतीय नौसेना में ऑफिसर कैसे बनें
NDA में ऑफिसर कैसे बनें
UPPCL में जूनियर इंजीनियर भर्ती की जानकारी

परीक्षा पाठ्यक्रम | Exam Syllabus
अंग्रेजी (English)- Preposition, Correction of sentences,Verbs/Tense/Infinitives, Change direct to indirect/indirect direct, Passage, Change active to passive/ passive to active voice, Punctuation, Determiners (use of a, the, any etc), Substituting phrasal, Antonyms, Meanings, verbs for expression, Use of adjective Compound, Use of pronouns

विज्ञान(Science)- गति के नियम, ऊर्जा और पावर, कार्य, भौतिक दुनिया और माप, गुरुत्वाकर्षण, Kinematics, विद्युत धारा, दोलन, प्रत्यावर्ती धारा, तरंग, Mechanics of Solids and Fluids, इलेक्ट्रोस्टैटिक्स, Thermodynamics, प्रकाशिकी, Magnetic Effect of Current, विद्युतचुंबकीय प्रेरण, Principle of Communication, Dual Nature of Matter and Radiations, कार्बनिक रसायन, ठोस और अर्ध-कंडक्टर डिवाइस, मानव रोग, परमाणु नाभिक, कंप्यूटर विज्ञान, शरीर क्रिया विज्ञान, विद्युतचुंबकीय तरंगे, धातु और अधातु, खाद्य, पोषण और स्वास्थ्य

गणित(Mathematics)- त्रिकोणमिति, निर्देशांक, लघुगणक, क्रमपरिवर्तन और युग्म, वृत, एक्सपोनेंशियल और लघुगणक श्रृंखला, सांख्यिकी, Function, Limits and Continuity, ज्यामिति, चतुष्कोण समीकरण, द्विपद प्रमेय, Definite Integrals, Relations and Functions, Complex Number, अनुक्रम और श्रृंखला, Cartesian System of Rectangular, शंकु अनुभाग, वैक्टर, Set and Set Theory, Introduction to Three-Dimensional Geometry, Probability, Differentiation, मैट्रिक्स

सामान्य ज्ञान(General Knowledge)- भूगोल, मिट्टी, नदियाँ, पर्वत, बंदरगाहों, अंतर्देशीय हार्बर, खेल, चैम्पियनशिप / विजेता / शर्तें / खिलाड़ियों की संख्या, सामयिकी, कला, इतिहास, भारत के बारे में तथ्य, पक्षी, पशु, गीत, झंडा, स्मारक, पुरस्कार और लेखक, संस्कृति और धर्म, स्वत्रंता, दोलन, रक्षा, युद्ध, विरासत, नृत्य, राष्ट्रीय भाषाएँ, राजधानियाँ और मुद्राएँ, पोषण, प्रख्यात व्यक्तित्व, संख्यात्मक विचार, Spellings Unscrambling, कोडिंग और डिकोडिंग

शारीरिक स्वास्थ्य परीक्षण (Physical Fitness Test):- जो अभ्यर्थी परीक्षा में उत्तीर्ण होते है, उनका शारीरिक स्वास्थ्य परीक्षण उसी समय होता है।

1.6 किलोमीटर दौड़- PFT में सबसे पहले 1.6 किमी की दौड़ होती है। उम्मीदवारों को इस दौड़ को 7 मिनट में पूरा करना होता है।
सभी उम्मीदवारों को 20 उठक-बैठक करना होता है और अंत मे 10 पुश-अप्स भी करना होता है। जो उम्मीदवार PFT में भी पास हो जाते है, उनका मेडिकल भी PFT के तुरंत बाद हो जाता हैं।

नौसेना में SSR का मेडिकल टेस्ट | Medical Test of SSR in Navy

नौसेना में SSR का मेडिकल टेस्ट सशस्त्र बलों के आधार पर होता है। अभ्यर्थियों की आँखे बिना चश्मे के 6/6 होनी चाहिए और आँखों मे Colour Vision की समस्या नही होनी चाहिए। कान, नाक और गले में किसी प्रकार का रोग नही होना चाहिए। इसके अलावा उम्मीदवारों की छाती में सांस भरकर रोकने से 5 सेमी. का फैलाव होना चाहिए। मेडिकल टेस्ट में पैर और पंजा भी देखा जाता है, इसमें कोई विकृति नही होनी चाहिए। हर्निया भी मेडिकल टेस्ट में जांचा जाता है।

मेरिट लिस्ट | Merit List
जो उम्मीदवार परीक्षा, फिजिकल फ़िटनेस टेस्ट, शारीरिक दक्षता और मेडिकल पास कर लेते है वो नौसेना हेडक्वाटर द्वारा निर्धारित मेरिट लिस्ट का इंतजार करते है। जिन उम्मीदवारों का नाम मेरिट लिस्ट में आता है, उनको प्रशिक्षण के लिए प्रशिक्षण संस्थान भेज दिया जाता है।

प्रशिक्षण | Training
नौसेना सभी प्रविष्टि के नाविकों की ट्रेनिंग तीन चरणों में होता है:-
बुनियादी प्रशिक्षण  (Basic Training)
Afloat Training
पेशेवर प्रशिक्षण (Professional Training)

बुनियादी प्रशिक्षण  (Basic Training):- सभी नाविकों का बुनियादी प्रशिक्षण चिल्का (ओड़ीसा) में होता है। यहां पर नाविकों को परेड, नौसेना की मौलिक जानकारी, तैराकी इत्यादि का प्रशिक्षण होता है।

Afloat Training :- बुनियादी प्रशिक्षण खत्म होने के बाद नाविकों को अलग-अलग युद्ध-पोत में Afloat Training के लिए भेजा जाता है।

पेशेवर प्रशिक्षण (Professional Training) :- Afloat Training के बाद नाविकों को नौसेना के पेशेवर प्रशिक्षण के लिए अलग-अलग Professional School भेजे जाते है। 

नौसेना के नाविकों की पद्दोन्नति तथा वेतन भत्ता | Promotion and Pay Allowance of Naval Sailors

नौसेना में नाविकों का Sea II (सीमैन II) रैंक से Master Chief Petty Officer I तक प्रमोशन होता है। नौसेना के नाविकों को 5200 रु/प्रतिमाह सैन्य भत्ता भी मिलता है। Sea II रैंक के नाविक का वेतन pay matrix में 3rd लेवल से शुरुआत होती है और सबसे वरिष्ठ नाविक Master Chief Petty Officer I का वेतन 8th लेवल में आता है। जिन नाविकों का रिकॉर्ड अच्छा होता है उनको नौसेना द्वारा कमीशन रैंक जैसे Honarary Sub Lieutenant और Honarary Lieutenant भी दिया जाता है।


रैंक
पे-मैट्रिक्स में लेवल
सीमैन II/ सीमैन I
3
लीडिंग सीमैन
4
पेटी ऑफिसर
5
मेकनिशिनीयन/अर्टिफिसर-III
5A
चीफ पेटी ऑफिसर
6
मास्टर चीफ पेटी ऑफिसर-II
7
मास्टर चीफ पेटी ऑफिसर-I
8
Honorary Sub Lieutenant
9
Honorary Lieutenant
10

यह भी पढ़ें:-
भारतीय नौसेना में नाविकों की भर्ती की पूरी जानकारी
मिलिट्री नर्सिंग सर्विस बीएससी(नर्सिंग) कोर्स क्या है 
भारतीय नौसेना AA भर्ती परीक्षा टिप्स

उम्मीद है यह लेख आपको पसंद आया होगा। कृपया कमेंट में ज़रूर बताएं। अगर अब भी आपको कुछ जानना है तो कमेंट में पूछ सकते हैं। अपने दोस्तों से शेयर जरूर करें और हमशे सोशल मीडिया पर जुड़े रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad