भारतीय तटरक्षक बल क्या है, तटरक्षक बल में नाविक कैसे बनें - EXAMS TIPS HINDI

Home Top Ad

Post Top Ad

Sunday, April 12, 2020

भारतीय तटरक्षक बल क्या है, तटरक्षक बल में नाविक कैसे बनें

भारतीय तटरक्षक बल क्या है, तटरक्षक बल में नाविक कैसे बनें

नमस्कार दोस्तों, Exams Tips Hindi वेबसाइट में आपका स्वागत है। इस आर्टिकल में भारतीय तट रक्षक बल क्या है और तट रक्षक बल में नाविक कैसे बनें, की जानकारी दी गयी है। बहुत से ऐसे स्टूडेंट्स है, जिन्हें भारतीय तटरक्षक बल की जानकारी नही होती है। भारतीय तट रक्षक बल नौजवानों को सरकारी नौकरी करने का बहुत ही सुनहरा अवसर देती है। इस आर्टिकल में ऐसी बहुत सी जानकारी देने की कोशिश की गयी है जिसे आप इंटरनेट पर सर्च करते है जैसे कि- Coast Guard ka Kya Kaam Hota Hai, Coast Guard ka Matlab Kya Hota Hai इत्यादि। तो आइए जानते है भारतीय तटरक्षक बल के बारें में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियाँ-

भारतीय तटरक्षक बल क्या है, तटरक्षक बल में नाविक कैसे बनें, Coast Guard ka Kya Kaam Hota Hai, Coast Guard ka Matlab Kya Hota Hai
भारतीय तटरक्षक बल क्या है, तटरक्षक बल में नाविक कैसे बनें

भारतीय तटरक्षक बल क्या है | Indian Coast Guard Kya Hai

भारतीय तटरक्षक बल एक अर्धसैनिक बल है, जो रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत कार्य करती है। आपको यह जानना ज़रूरी है कि अन्य सभी अर्धसैनिक बल (BSF, CRPF, SSB, CISF, ITBP, असम राइफल्स) गृह मंत्रालय के अंतर्गत आते है।
भारतीय तटरक्षक बल स्थापना 01 फरवरी 1977 ई. में कई गयी थी। भारतीय तटरक्षक बल की स्थापना का मुख्य उद्देश्य समुद्री संसाधनों की सुरक्षा, समुद्र में तस्करी तथा अवैध गतिविधियों इत्यादि को रोकने के लिए था। बाद में भारतीय तटरक्षक बल का 19 अगस्त 1978 ई. को भारत के प्रधानमंत्री, श्री मोरारजी देसाई द्वारा औपचारिक रूप से उदघाट्न किया गया।

भारतीय तटरक्षक बल का आदर्श वाक्य (Motto of Indian Coast Guard)

" वयम रक्षामः" - हम रक्षा करते हैं

तटरक्षक बल का क्या काम होता है | Coast Guard ka Kya Kaam Hota Hai

भारतीय तटरक्षक बल का मुख्य कर्त्तव्य इस प्रकार है-
◆ भारत की 2.01 मिलियन वर्ग किमी समुद्री क्षेत्र तथा इसमें पाए जाने वाले जीवन, मत्सय, तेल, एवं खनिज इत्यादि की सुरक्षा का कर्तव्य तटरक्षक बल का होता है।
◆ समुद्र में भारतीय मछुआरों की सुरक्षा की ज़िम्मेदारी भारतीय तट रक्षक बल की होती है। यदि समुद्र में कोई आपातकाल की स्थिति आती है तो इसमें भी मछुआरों की मदद तटरक्षक बल की ज़िम्मेदारी होती है।
◆ अपतटीय स्टेशनों (Offshore Platforms) जैसे कि बॉम्बे हाई, ONGC प्लेटफ़ॉर्म इत्यादि की सुरक्षा की ज़िम्मेदारी।
◆ समुद्री पर्यावरण की सुरक्षा, प्रदूषण का नियंत्रण एवं रोकथाम तथा दुर्लभ प्रजातियों की सुरक्षा भी तटरक्षक बल का कर्तव्य होता है।
◆ समुद्र के रास्ते होने वाली तस्करी को रोकते है तथा सीमा शुल्क विभाग के साथ मिलकर कार्य करते है।
◆ भारतीय तटरक्षक बल समुद्री नियमों और कानूनों को सही से लागू करने के लिए दिन-रात समुद्र में निगरानी करता है।
◆ युद्ध के दौरान नौसेना का बैकअप का भी कार्य करता है।

यह भी पढ़ें:-
10वीं के बाद सरकारी नौकरी कौन सी है
नौसेना में SSR क्या होता है, SSR में कैसे भर्ती हों 

भारतीय तटरक्षक बल में कैसे भर्ती हों | How to Recruit in Indian Coast Guard

अभी तक आपको भारतीय तटरक्षक बल क्या है और इसका क्या काम होता है, के बारे में जानकारी मिल गयी होगी। अब बात करते है तटरक्षक में करियर बनाने की। जैसा की आप जान चुके है कि भारतीय तटरक्षक एक अर्धसैनिक बल है जो रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत काम करता है। भारतीय तटरक्षक बल के पास अनेक पोत, एयरक्राफ्ट, हेलिकॉप्टर इत्यादि है। इनमें बहुत से अधिकारी और नाविक ड्यूटी करते है। भारतीय तटरक्षक बल में मुख्यतः दो प्रकार की भर्तीयां होती है- पहला अधिकारी भर्ती जिसे असिस्टेंट कमांडेंट कहते है और दूसरी नाविक भर्ती। भारतीय तटरक्षक बल में करियर बनाना बहुत ही अच्छी चॉइस है क्योंकि तटरक्षक बल के अधिकारी और नाविक, सैलरी के अलावा सेना(आर्मी, नेवी, एयरफ़ोर्स) की कैंटीन और हॉस्पिटल का भी लाभ उठा सकते है जो अन्य अर्धसैनिक बलों को नही मिलती है। तो आइए जानते है भारतीय तटरक्षक बल में सहायक कमांडेंट और नाविकों की भर्ती के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियाँ-

भारतीय तटरक्षक बल में सहायक कमांडेंट | Assistant Commandant in Indian Coast Guard

भारतीय तटरक्षक बल में सहायक कमांडेंट के पदों पर पुरुषों के साथ-साथ महिलाएँ भी भर्ती हो सकती है। असिस्टेंट कमांडेंट ग्रुप 'A' गजटेड अधिकारी होते है। इस पद पर भर्ती होने के लिए आपके पास मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी/संस्थान से 55 प्रतिशत अंक से ग्रेजुएट होना चाहिए। भर्ती प्रक्रिया दो चरणों मे होती ह। प्रथम चरण में मानसिक क्षमता परीक्षण / संज्ञानात्मक योग्यता परीक्षा और चित्र धारणा (Picture Perception) और चर्चा परीक्षण (Discussion Test) होता है। प्रथम चरण में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को द्वितीय चरण के लिए बुलाया जाता है। द्वितीय चरण में फाइनल सिलेक्शन बोर्ड होता है। इस चरण को भी पास करना अनिवार्य होता है। जो अभ्यर्थी द्वितीय चरण भी पास कर लेते है उनका मेडिकल स्टैंडर्ड टेस्ट होने के बाद वेकैंसी के अनुसार फाइनल मेरिट लिस्ट बनती है। जो भी उम्मीदवार भारतीय तटरक्षक बल में अधिकारी पद पर चयनित होता है, उसको पहला रैंक असिस्टेंट कमांडेंट मिलता है। भारतीय तटरक्षक बल में अधिकारी रैंक इस प्रकार है-
  • असिस्टेंट कमांडेंट
  • डिप्टी कमांडेंट
  • कमांडेंट (जूनियर ग्रेड)
  • कमांडेंट
  • डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल
  • इंस्पेक्टर जनरल
  • एडिशनल डायरेक्टर जनरल
  • डायरेक्टर जनरल

भारतीय तट रक्षक बल में नाविक | Navik in Indian Coast Guard

भारतीय तट रक्षक बल में नविंको की बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका है। जहाजों, ऐरक्राफ्ट्स, हेलकॉप्टर्स, की मरम्मत, रख-रखाव और उनको चलाने में मदद करना इत्यादि कार्य नाविकों का होता है। भारतीय तट रक्षक बल में नाविकों की तीन प्रकार की प्रविष्टि है- नाविक(जनरल ड्यूटी), नाविक(डोमेस्टिक ब्रांच) और यांत्रिक। नाविकों की सभी प्रविष्टि की भर्ती प्रक्रिया समान होती है। भर्ती प्रक्रिया में सबसे पहले लिखित परीक्षा होती है। इसके बाद शारीरिक दक्षता परीक्षा और मेडिकल टेस्ट होता है। जो उम्मीदवार इन सभी टेस्ट में पास हो जाते है, उनका वेकैंसी के अनुसार फाइनल मेरिट लिस्ट बनती है।

नाविक(जनरल ड्यूटी)
नाविक(जीडी) के पदों पर भर्ती होने के लिए उम्मीदवार की आयु 18 से 22 वर्ष के बीच होनी चाहिए। इसके लिए शैक्षणिक योग्यता, मान्यता प्राप्त बोर्ड से भौतिक विज्ञान और गणित से इंटरमीडिएट में अंक 50 प्रतिशत होना चाहिए। इस भर्ती में चयनित अभ्यर्थियों को इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल, सीमैन, राइटर, स्टोर, एविएशन इत्यादि ब्रांच मिलती है।

नाविक(डोमेस्टिक ब्रांच)
इस भर्ती को नाविक (डीबी) के नाम से भी जाना जाता है। इस भर्ती में सिर्फ़ दो ब्रांच होती है- कुक(Cook)और स्टीवर्ड। नाविक कुक का मुख्य कार्य अधिकारियों और नविंको को खाना बनाना है तथा नाविक स्टीवर्ड का मुख्य कार्य अधिकारियों को खाना खिलाना, हाउसकीपिंग, मेस फण्ड एकाउंटिंग इत्यादि होता है। नाविक (डीबी) भर्ती के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों की आयु 18 से 22 वर्ष के बीच होनी चाहिए। नाविक (डीबी) के लिए शैक्षणिक योग्यता मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं कक्षा 50 प्रतिशत अंको के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए।

यांत्रिक
भारतीय तटरक्षक बल में यांत्रिक की भर्ती डिप्लोमा होल्डर्स के लिए होती है। जिन नौजवानों ने मेकैनिकल, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स तथा इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलिकम्युनिकेशन ट्रेड से डिप्लोमा किया है, वो नौजवान भारतीय तटरक्षक बल में यांत्रिक भर्ती के लिए आवेदन कर सकते है। यांत्रिक भर्ती के लिए आवेदक की उम्र 18 से 22 वर्ष के बीच होनी चाहिए। यांत्रिक के लिए शैक्षणिक योग्यता हाई स्कूल उत्तीर्ण होने के साथ AICTE मान्यता प्राप्त डिप्लोमा में 60 प्रतिशत होना चाहिए। इसमें भर्ती हुए उम्मीदवारों को मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल, एविएशन ब्रांच मिलती है। इनका मुख्य कार्य तकनीकि होता है।
यह भी पढ़ें:-
यांत्रिक भर्ती क्या है, इंडियन कोस्ट गार्ड में यांत्रिक कैसे बनें

आज आपने क्या सीखा
दोस्तों इस आर्टिकल में हमने बताने की कोशिश की है कि भारतीय तटरक्षक बल क्या है, भारतीय तटरक्षक बल का क्या काम होता है, भारतीय तटरक्षक बल में कौन-कौन सी भर्तीयां होती है और भारतीय तटरक्षक बल में असिस्टेंट कमांडेंट और नाविक कैसे बनें। 
यदि आपके पास भारतीय तटरक्षक बल के बारे में कोई प्रश्न है तो, नीचे 👇कमेंट में पूछ सकते है। धन्यवाद!

यह भी पढ़ें:-
NDA में ऑफिसर कैसे बनें
भारतीय नौसेना में नाविकों की भर्ती की पूरी जानकारी

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad